h       एक मंदिर के सौंदर्यीकरण की लागत का विवरण इस प्रकार है :       7वे पाटोत्सव समारोह का आयोजन भव्य कलश यात्रा एवं कुलदेवी माताओं की महाआरती के साथ सम्पन्न        गणेश जी के पंचामृत एवं दुग्धाभिषेक के लिये सन 2012 के आगामी पुष्य नक्षत्र       खण्डेला धाम पर पाटोत्सव समारोह की सभी तैयारियां पूर्ण        धाम पर होने वाले आगामी उत्सव एवं समारोह        खण्डेलवाल वैश्य समाज के निर्माणाधीन तीर्थस्थान खण्डेला –धाम पर नवरात्रा महोत्सव का आयोजन 23 मार्च से 1 अप्रेल 2012 तक       खण्डेला-धाम पर आँखों की जाँच एवं नि:शुल्क लैंस प्रत्यारोपण शिविर सम्पन्न       धाम पर कॉमन सुविधाओं एवं प्याऊ का निर्माण पूर्ण : -       लाँन का सौन्दर्यीकरण प्रारम्भ :       बड़ा मल्टी परपज हाल बनवाने की योजना : -       बाउंड्री वाल का निर्माण :-       मंदिरों का सौन्दर्यीकरण : -       डोरमैट्री ,किचन,डाइनिंग हाल व स्वागत कक्ष का निर्माण शीघ्र प्रारम्भ :-       एक मन्दिर के सौन्दर्यीकरण की लागत का विवरण इस प्रकार है :-       श्री बलराम पशु-पक्षी सेवा समिति,दौसा द्वारा पक्षी चुग्गा वितरण       श्री माखद माता के द्वितीय पाटोत्सव कार्यक्रम का आयोजन       श्री कपासन माता का 19वां पाटोत्सव कार्यक्रम 6 व 7 फरवरी 2012 को       श्री रमेश बडाया,खण्डेलवाल युवक संघ,मुंबई के अध्यक्ष निर्वाचित       श्री पन्नालाल जी गुप्ता का खण्डेला-धाम पर अनुकरणीय सहयोग       गणेश जी के पंचामृत एवं दुग्धाभिषेक के लिए सन् 2012 के आगामी पुष्य नक्षत्र             खण्डेलवाल वैश्य समाज के निर्माणधीन तीर्थस्थान “खंडेला धाम” पर सहस्त्र मोदक यज्ञ 6 दिसम्बर से ट्रस्ट कि अखिल भारतीय कार्यकारिणी कि मीटिंग एवं अन्नकूट प्रसादी का भव्य आयोजन सम्पन्न       पत्रिका के आजीवन सदस्य बनें       धाम पर किये जाने वाले निर्माण के लिये नियत सहयोग राशि (01-05-2008) से संशोधित       पुष्य नक्षत्र के अवसर पर भगवान गणेश जी के दुग्धाभिषेक के दिनांक /तिथियाँ       अपनी कुल देवी या गणेश जी या भैरव को आजीवन भोग लगावे        आजीवन एक बार 2100 रूपये देकर               आवश्यकता       श्री खण्डेलवाल वैश्य समाज समिति टोंक फाटक क्षेत्र के युवा एवं महिला मंडल के चुनाव सम्पन्न       घोषनाऐ       गतिविधिया        विधान        हमारे गुरु        गौत्र        खण्डेला धाम का इतिहास       खण्डेलवाल वैश्य समाज के निर्माणधीन तीर्थस्थान खण्डेला धाम पर पर पाटोत्सव कि सभी तैयारियां पूर्ण       जयपुर से विशेष बसे लगाईं जायेगी: -         उद्यान का उदघाट्न : -         पाटोत्सव के अवसर पर धाम को रोशनी से सजाया जायेगा |         अतिथि गृह मे कमरे पूर्व मे ही बुक करवाएं : -         नवरात्रा महोत्सव 4 अप्रैल 2011 से : -         नवान्ह परायण के पाठ :-         श्री माखद माता जीर्णोद्धार समिति,जयपुर द्वारा माखद माता मंदिर प्रबंधन प्रन्यास का गठन         श्री गिरधारी लाल खण्डेलवाल ,राडा के सचिव बने         खण्डेलवाल युवक संघ,भरतपुर द्वारा आयोजित लोकार्पण समारोह एवं बसंतोत्सव सम्पन्न         धाम पर किये जाने वाले निर्माण के लिये नियत सहयोग राशि (01-05-2008) से संशोधित         निम्नानुसार सदस्यता राशि           श्री खण्डेलवाल तीर्थस्थान ट्रस्ट के आजीवन ट्रस्टी : एक परिचय         अपनी कुल देवी या गणेश जी या भैरव को आजीवन भोग लगावे : आजीवन एक बार 2100 रूपये देकर          
      h       एक मंदिर के सौंदर्यीकरण की लागत का विवरण इस प्रकार है :       7वे पाटोत्सव समारोह का आयोजन भव्य कलश यात्रा एवं कुलदेवी माताओं की महाआरती के साथ सम्पन्न        गणेश जी के पंचामृत एवं दुग्धाभिषेक के लिये सन 2012 के आगामी पुष्य नक्षत्र       खण्डेला धाम पर पाटोत्सव समारोह की सभी तैयारियां पूर्ण        धाम पर होने वाले आगामी उत्सव एवं समारोह        खण्डेलवाल वैश्य समाज के निर्माणाधीन तीर्थस्थान खण्डेला –धाम पर नवरात्रा महोत्सव का आयोजन 23 मार्च से 1 अप्रेल 2012 तक       खण्डेला-धाम पर आँखों की जाँच एवं नि:शुल्क लैंस प्रत्यारोपण शिविर सम्पन्न       धाम पर कॉमन सुविधाओं एवं प्याऊ का निर्माण पूर्ण : -       लाँन का सौन्दर्यीकरण प्रारम्भ :       बड़ा मल्टी परपज हाल बनवाने की योजना : -       बाउंड्री वाल का निर्माण :-       मंदिरों का सौन्दर्यीकरण : -       डोरमैट्री ,किचन,डाइनिंग हाल व स्वागत कक्ष का निर्माण शीघ्र प्रारम्भ :-       एक मन्दिर के सौन्दर्यीकरण की लागत का विवरण इस प्रकार है :-       श्री बलराम पशु-पक्षी सेवा समिति,दौसा द्वारा पक्षी चुग्गा वितरण       श्री माखद माता के द्वितीय पाटोत्सव कार्यक्रम का आयोजन       श्री कपासन माता का 19वां पाटोत्सव कार्यक्रम 6 व 7 फरवरी 2012 को       श्री रमेश बडाया,खण्डेलवाल युवक संघ,मुंबई के अध्यक्ष निर्वाचित       श्री पन्नालाल जी गुप्ता का खण्डेला-धाम पर अनुकरणीय सहयोग       गणेश जी के पंचामृत एवं दुग्धाभिषेक के लिए सन् 2012 के आगामी पुष्य नक्षत्र             खण्डेलवाल वैश्य समाज के निर्माणधीन तीर्थस्थान “खंडेला धाम” पर सहस्त्र मोदक यज्ञ 6 दिसम्बर से ट्रस्ट कि अखिल भारतीय कार्यकारिणी कि मीटिंग एवं अन्नकूट प्रसादी का भव्य आयोजन सम्पन्न       पत्रिका के आजीवन सदस्य बनें       धाम पर किये जाने वाले निर्माण के लिये नियत सहयोग राशि (01-05-2008) से संशोधित       पुष्य नक्षत्र के अवसर पर भगवान गणेश जी के दुग्धाभिषेक के दिनांक /तिथियाँ       अपनी कुल देवी या गणेश जी या भैरव को आजीवन भोग लगावे        आजीवन एक बार 2100 रूपये देकर               आवश्यकता       श्री खण्डेलवाल वैश्य समाज समिति टोंक फाटक क्षेत्र के युवा एवं महिला मंडल के चुनाव सम्पन्न       घोषनाऐ       गतिविधिया        विधान        हमारे गुरु        गौत्र        खण्डेला धाम का इतिहास       खण्डेलवाल वैश्य समाज के निर्माणधीन तीर्थस्थान खण्डेला धाम पर पर पाटोत्सव कि सभी तैयारियां पूर्ण       जयपुर से विशेष बसे लगाईं जायेगी: -         उद्यान का उदघाट्न : -         पाटोत्सव के अवसर पर धाम को रोशनी से सजाया जायेगा |         अतिथि गृह मे कमरे पूर्व मे ही बुक करवाएं : -         नवरात्रा महोत्सव 4 अप्रैल 2011 से : -         नवान्ह परायण के पाठ :-         श्री माखद माता जीर्णोद्धार समिति,जयपुर द्वारा माखद माता मंदिर प्रबंधन प्रन्यास का गठन         श्री गिरधारी लाल खण्डेलवाल ,राडा के सचिव बने         खण्डेलवाल युवक संघ,भरतपुर द्वारा आयोजित लोकार्पण समारोह एवं बसंतोत्सव सम्पन्न         धाम पर किये जाने वाले निर्माण के लिये नियत सहयोग राशि (01-05-2008) से संशोधित         निम्नानुसार सदस्यता राशि           श्री खण्डेलवाल तीर्थस्थान ट्रस्ट के आजीवन ट्रस्टी : एक परिचय         अपनी कुल देवी या गणेश जी या भैरव को आजीवन भोग लगावे : आजीवन एक बार 2100 रूपये देकर          
7वे पाटोत्सव समारोह का आयोजन भव्य कलश यात्रा एवं कुलदेवी माताओं की महाआरती के साथ सम्पन्न 

 

Read 1837 Times
2012-05-01
खण्डेला | खंडेलवाल वैश्य समाज के तीर्थस्थान "खण्डेला धाम" पर दो दिवसीय 7 वा पाटोत्सव समारोह बड़ी धूमधाम एवं उल्लास के साथ सम्पन्न हुआ | शनिवार 14 अप्रेल एवं रविवार 15 अप्रेल 2012 को आयोजित हुए कार्यक्रम मे समाज बन्धुओं ने बड़े हर्षोल्लास के साथ भाग लिया |

                     7वे पाटोत्सव समारोह के प्रथम दिन 14 अप्रेल 2012 को प्रातः 8 बजे सभी 37 कुलदेवी मंदिरों , काल भैरव एवं शिव मंदिर के कलशों एवं त्रिशूल एवं डमरू के पूजन का कार्यक्रम पांच विद्वान पंडितों द्वारा प्रारम्भ करवाया गया | सभी कलशों के पूजन के पश्चात हवन प्रारम्भ हुआ | विद्वान पंडितों द्वारा धाम पर पधारे यजमानों के अलावा उपस्थित समाज बन्धुओं से भी हवन मे आहुतियाँ दिलवाई गई |

                     हवन के पश्चात पूर्णाहुति के साथ सांयकाल 4 बजे से सभी माताओं के मंदिरों पर कलश चढाने का कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ | सभी मंदिरों पर ध्वज भी चढ़ाये गये एवं उन्हें भी मंदिरों के शिखर पर लगाया गया | इसके बाद सांयकाल प्रसादी के साथ कलश एवं ध्वज पूजन कार्यक्रम का समापन हुआ | कार्यक्रम के यजमान श्री बी.एल.दुसाद (चार्टेड अकाउंटेंट) जयपुर थे |

                      दो दिवसीय पाटोत्सव समारोह के दूसरे दिन रविवार 15 अप्रेल 2012 को प्रात 7:30 बजे 41 पंडितों द्वारा सभी कुलदेवी माताओं ,गणेश जी,शिव जी एवं काल भैरव के अभिषेक का कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ | उपस्थित सभी भक्तों ने सर्वप्रथम पंचामृत से सभी माताओं का अभिषेक किया ,उसके बाद दुग्धाभिषेक किया साथ ही मंत्रोच्चार के साथ फिर शुद्ध जल से सभी को स्नान करवाया गया | स्नान करवाने के पश्चात सभी कुलदेवी माताओं, गणेश जी, शिव जी एवं काल भैरव को नवीन पोषाक धारण करवाई गई | पोषाक धारण करवाने के पश्चात सभी मंदिरों मे लड्डू भोग पहुंचाया गया |

                       इसी बीच महिलाओं द्वारा भव्य कलश यात्रा निकाली गई | कदम्ब के वृक्षों के नीचे से प्रारम्भ होकर कलश यात्रा गणेश मंदिर, शिव मंदिर के आगे से होकर सभी कुलदेवियों के आगे से निकलकर समाप्त हुई | कलश यात्रा के आगे बैण्ड बाजा चल रहा था एवं उनके पीछे पुरुष भक्तगण व सबके पीछे महिलाएं कलश धारण किये हुए चल रही थी | कलश यात्रा समाप्ति के बाद सभी भक्तगण गणेश मंदिर एवं शिव मंदिर पर एकत्र हो गये |

महाआरती :- उपस्थित सभी भक्तगणों ने सर्वप्रथम गणेश जी एवं शिव जी की महाआरती की तत्पश्चात सभी अपनी कुलदेवी माताओं के मंदिर पर पहुंचे एवं भारी उल्लास के साथ अपनी अपनी कुलदेवियों की आरती की |सभी ने बारी बारी से अपनी देवी की आरती कर आराधना की | महाआरती के पश्चात धाम पर उपस्थित सभी भक्तों ने लड्डू भोग व झांकियों के दर्शन किये |

                        पाटोत्सव समारोह मे भाग लेने के लिये मंदिर बनवाने वाले यजमानों के अलावा खंडेला एवं जयपुर के अलावा देश के विभिन्न भागों से भी भक्तगण धाम पर पधारे एवं महाआरती मे भाग लिया | जयपुर व आसपास से 13 बसों द्वारा भक्तगण धाम पर पहुंचे | महाआरती के बाद दोपहर 12 बजे से भोजन प्रसाद का कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ जो रात्रि 9 बजे तक भक्तों के लगातार आते रहने से चलता रहा |

स्वागत कक्ष की नींव का मुहूर्त सम्पन्न:- धाम पर पधारने वाले भक्तगणों की सुविधा के लिये स्वागत कक्ष बनाया जा रहा है | इसके बनने से भविष्य मे धाम पर पधारने वाले सभी भक्तगण एवं आगंतुक सबसे पहले स्वागत कक्ष मे ही आयेंगे और वहीं से उनको सभी सुविधाएँ प्रदान की जायेगी | लगभग 11 लाख रू. की लागत से बनने वाले इस स्वागत कक्ष के निर्माण के लिये श्री अनिल जी तमोलिया , जयपुर द्वारा सहयोग राशि रूपये 11 लाख देने का वचन दिया गया है | और उन्ही के कर कमलों द्वारा स्वागत कक्ष की नींव का मुहूर्त लगवाया गया है | इस अवसर पर सभी पदाधिकारि गण एवं कार्यकारिणी सदस्य मौजूद थे |

जयपुर मे पदाधिकारियों की एवं धाम पर साधारण सभा की मीटिंग सम्पन्न :- शनिवार दिनांक 14 अप्रेल 2012 को जयपुर मे पदाधिकारियों की मीटिंग सम्पन्न हुई | जिसमे आयोजित कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की गई एवं आयोजन को सफल बनाने पर विचार विमर्श किया गया | इसके अलावा रविवार 15 अप्रेल 2012 को धाम पर श्री खंडेलवाल वैश्य तीर्थस्थान ट्रस्ट की कार्यकारिणी की बैठक सम्पन्न हुई |

     

© Copyrights 2009-2010 . All Rights Reserved DOMAIN_NAME